Posts

3. Harrod's Librarians Glossary of Terms Used in Leadership, Documantation of Book

यह एक विशिष्ट शब्द कोश है क्योंकि इसका क्षेत्र पुस्तकालय विज्ञान तथा इससे सम्बन्धित विषय है । इन विषयों के प्रमुख पदों की सूचना दी गई है । इसमें अधिकतर उन पदों की सूचना है जिसका प्रयोग अमेरिका के पुस्तकालयों में होता है । इसमें पुस्तकालय विज्ञान के पदों के अतिरिक्त कुछ विषय जैसे अभिलेख, ग्रंथसूची, मुद्रण, कागज, चित्र निर्माण, आदि के पदों की सूचना दी गई है ।।
इसमें पदों की परिभाषा संक्षिप्त एवं पूर्ण दी गई है । कुछ पदों की सूचना तो एक पृष्ठ में भी मिल जाती है | पदों का व्यवस्थापन वर्णक्रमानुसार है तथा समानार्थक शब्दों के लिये निर्देश प्रविष्टियाँ भी पर्याप्त दी गई है । परिशिष्ट में टाइप का आकार तथा संकेताक्षरों की सूची दी गई है । परिभाषाएँ जो आंग्ल - अमेरिकन केटलाग कोड से ली गई है, उनके सम्मुख ० लगाया हुआ है । यद्यपि यह एक उपयोगी कोश है परन्तु इसका संशोधित संस्करण प्रकाशित नहीं होने के कारण इसमें विषय के नये शब्दों एवं पदों की जानकारी नहीं मिलती है ।
3. Harrod's Librarians Glossary of Terms Used in Leadership, Documantation of Book Craft and Reference Book, Ed 6, Aldershot, Gower,…

6. Rroget's International Thesaurus, Ed4, New York, Crowell, 1977

कुछ शब्द जो ग्रीक, लेटिन भाषा से है परन्तु जिनका प्रयोग हिन्दी भाषा में होने लगा है उन्हें इसमें सम्मिलित किया गया है ।
| इसमें प्रत्येक शब्द के बारे में व्याकरण सम्बन्धी जानकारी, विषय व्युत्पत्ति, अक्षर विच्छेद, विभिन्न वर्तनी, शब्द संक्षेपण चिन्ह आदि की जानकारी कई हुई है । भौतिक आकार अच्छा है । छपाई स्पष्ट है । यह उन पाठकों के लिए उपयोगी है जो हिन्दी भाषा में प्रयुक्त शब्दों के समानार्थ शब्द आंग्ल भाषा में पढ़ना चाहते हैं । यह सामान्य पाठकों के लिए संकलित की गई है।
6. Rroget's International Thesaurus, Ed4, New York, Crowell, 1977 यह आंग्ल भाषा का पर्यायवाची शब्दों का कोश है जिसमें समानार्थी शब्दों को एक स्थान पर एकत्रित किया गया है । जिसमें पाठक अपने विचारो को सही तरह से व्यक्त करने के लिए उपयुक्त शब्द का चयन कर सके। | इस शब्दकोश में लगभग 1,000 विषय शीर्षकों में पर्यायवाची शब्दों को व्यवस्थित किया गया है । प्रत्येक विषय शीर्षक में वाक्यांशों को व्याकरण के शब्द पक्ष के अनुसार व्यवस्थित किया गया है । जैसे शब्द Uncovering में पहले संज्ञा वाले शब्द, फिर विश्लेषण, फिर क्रिया वाले शब…

पुस्तकालय में पाठ्य सामग्री प्राप्त करने के तकनीकी अनुभाग

पुस्तकालय में पाठ्य सामग्री प्राप्त करने के तकनीकी अनुभाग पुस्तकालय में पाठ्य सामग्री प्राप्त होने के पश्चात् पाठकों के हाथों में अध्ययन हेतु पहुंचने से पूर्व प्रस्तुतीकरण अथवा वर्गीकरण तथा प्रसूचीकरण किया जाता है तथा पुस्तक की सज्जा की जाती है | यह पुस्तकालय विज्ञान के नियमों की अनुपालना के लिए आवश्यक प्रक्रियाएँ हैं । यह कार्य अत्यंत उत्तरदायित्वपूर्ण होता है । यहां इस बात का ध्यान रखना आवश्यक है कि उपर्युक्त प्रक्रियाएँ पाठकों के लाभ के लिए निर्धारित अवधि में तुरंत पूरी कर ली जाएं । यह माना जाता है कि पुस्तकालय में पुस्तक प्राप्त करने की तिथि से दो सप्ताह के अन्दर सारी क्रिया पूरी करके पाठकों के हाथ में उपयोग हेतु पहुंच जानी चाहिए । एक सामान्य व्यक्ति के दृष्टिकोण से ये प्रक्रियाएँ साधारण-सी प्रतीत होती हैं । परंतु इनका प्रत्येक चरण तकनीक से संयुक्त होता है । यदि इन प्रक्रियाओं में अशुद्धियां, विलम्ब या अधिक व्यय हुआ तो पाठकों तथा कर्मचारियों दोनों को कठिनाई होगी तथा प्राप्त पाठ्य सामग्री अनुपयोगी बनकर रह जाएगी ।
2. तकनीकी अनुभाग पुस्तकालय में पाठ्य सामग्री प्राप्त करने के पश्चात्…

पुस्तकालय के विभिन्न क्रियाकलापों का सविस्तार पूर्वक प्रत्येक बातों का वर्णन कीजिये ?

पुस्तकालय के विभिन्न क्रियाकलापों का सविस्तार पूर्वक प्रत्येक बातों का वर्णन कीजिये ? 2. तकनीकी अनुभाग (Technical Section) इस अनुभाग के अंतर्गत मुख्य रूप से वर्गीकरण एवं प्रसूचीकरण का कार्य किया जाता है | इस अनुभाग में काम करने वाले विभिन्न प्रकार के कर्मचारियों जैसे. वर्गीकार प्रसूचीकार, प्रसूचीपत्रक को फाइल करने वाला, टाइपिस्ट, डाटा एन्ट्रीआपरेटर इत्यादि को बैठने तथा वर्गीकरण एवं प्रसूचीकरण की जाने वाली पुस्तकों को रखने के लिए पर्याप्त स्थान का प्रावधान होना चाहिए । सामान्यतया छोटे पुस्तकालयों में अवाप्ती अनुभाग और तकनीकी अनुभाग एक ही इकाई के रूप में कार्य करते हैं ।
3. संदर्भ अनुभाग (Reference Selecion) सामान्यत: सभी पुस्तकालयों में अध्ययन क्या के निकट उच्च स्तरीय, अद्यतन एवं उपयोगी संदर्भ ग्रंथों से परिपूर्ण तथा प्रशिक्षित संदर्भपुस्तकालयाध्यक्ष के निर्देशन में एक संदर्भ अनुभाग का गठन होता है । पुस्तकालय के विभिन्न क्रियाकलापों में संदर्भ क्रियाकलाप का महत्वपूर्ण स्थान है | इस अनुभाग से ही संदर्भ पुस्तकालयाध्यक्ष पाठक और पाठ्य सामग्री के बीच व्यक्तिगत संबंध स्थापित करवाता है ।
(d…

पुस्तकालयों एवं सूचना केन्द्रों के परिप्रेक्ष्य में प्रबंध के सिद्धान्तों की संक्षेप में व्याख्या करें

पुस्तकालयों एवं सूचना केन्द्रों के परिप्रेक्ष्य में प्रबंध के सिद्धान्तों की संक्षेप में व्याख्या करें  1. पुस्तकालय सेवा की समाज में कितनी आवश्यकता है, क्या पुस्तकालय आवश्यकता को समझता है एवं इसकी पूर्ति के लिए क्या प्रयास किए जा रहे हैं एवं भविष्य में क्या प्रस्ताव चल रहे हैं?
2. पुस्तकालय समिति में किन लोगों को शामिल किया जाना है, जो इसके विकास में योगदान दे सके । |
3. क्या पुस्तकालय भवन पुस्तकालय सेवाएं प्रदान करने के लिए पर्याप्त है? अगर नहीं तो नये भवन के लिए क्या प्रयास किए जा सकते है?
4. पुस्तकालय में किस प्रकार की पाठ्य सामग्री की आवश्यकता है? पाठकों की क्या आवश्यकता है, क्या कोई विषय विशेष पर विशेष ध्यान दिया जाना है । पाठ्य सामग्री अवाप्ति के क्या साधन हो सकते हैं। इनका व्यवस्थापन किस प्रकार होगा?
5. पुस्तकालय को कितने वित्तीय संसाधनों की आवश्यकता है तथा ये किस प्रकार प्राप्त किए जा सकते हैं? इनका लेखा जोखा किस प्रकार किया जायेगा?
6. पुस्तकालय के सफल संचालन के लिए कर्मचारियों की आवश्यकता है? उनकी दक्षता योग्यता क्या होगी' क्या उनको किसी तरह के प्रशिक्षण की आवश्यकता है।